Monday, July 27, 2020

Meri Chuddakan Behan Ko Mera Lund Chahiye - बड़ी बहिन ने चुदवाया

Meri Chuddakan Behan Ko Mera Lund Chahiye - बड़ी बहिन ने चुदवाया 

Meri Chuddakan Behan Ko Mera Lund Chahiye - बड़ी बहिन ने चुदवाया


नमस्कार दोस्तो, मैं Saif Khan आपके पास मेरा सेक्स एक्सपीरियंस लेकर आया हूँ, जिसमें मैंने मेरी बहन को चोदा है. मैं राजस्थान का रहने वाला हूँ. मेरे घर में अम्मी शाजिया 49 साल, अब्बू Junaid 50 साल, मैं 29 साल का, मेरी बड़ी बहन Mahira 31 साल की और छोटी बहन अफसाना 24 साल की है.
इस कहानी से पहले भी मेरी एक कहानी प्रकाशित हो चुकी है
सलमा ने बनाया बलमा 
यह बात कुछ समय पहले की है.
13 saal virgin bhanji ki seal todi - Antarvasna...

मेरी बड़ी बहन Mahira बड़ी ही चुदक्कड़ थी, वो बहुत से लड़कों से चुदवाती थी और उसका चक्कर मेरे अंकल से भी था. Mahira की इन हरकतों की वजह से पापा मम्मी बहुत परेशान रहते थे और डरते थे कि कहीं छोटी लड़की भी उसके नक़्शे कदम पे न चल पड़े. इसलिए पापा ने एक लड़का देख कर Mahira की शादी कर दी. Mahira की शादी एक साल पहले हो गई थी. मगर वो सिर्फ तीन महीने ही ससुराल में रही और वापस घर आकर बैठ गयी क्योंकि उसकी चूत की खुजली कभी शांत नहीं होती थी और वहां सुसराल में वो अपने देवर से चुदने लगी थी. उसने उधर पड़ोस में एक यार भी बना लिया था. मगर मेरे जीजा ने Mahira को उसके देवर के साथ चुदवाते देख लिया था और Mahira को मार पीट कर घर भेज दिया.
उसके घर आने पर पापा उस पर बहुत चिल्लाए, जीजा से बहुत अनुनय विनय की मगर मेरे जीजा उसे वापस ले जाने को तैयार नहीं हुए.

अब उसको घर बैठे दो महीने हो चुके थे और पापा ने उसका घर से बाहर जाना बंद कर दिया था. Mahira इन दिनों लंड के लिए तड़प रही थी और इसकी वजह से घर में लड़ाई झगड़ा होता रहता था.
मेरी दोनों बहनें एक ही कमरे में सोती थीं और देर रात को उनके कमरे से सिसकारियों की आवाज़ आती थी.

Searched: Free Hindi Sex Stories and Desi Chudai Ki Kahani, Best and the most popular Indian site Antarvasna Hindi Sexy Story. kamuk kahani

एक दिन मैंने सोचा ये सिसकारियों की आवाज़ किसकी है, देखना पड़ेगा. इसलिए मैंने एक रात को दरवाज़े के की-होल में से देखा. उस वक़्त रात के दो बजे थे. मैंने देखा कि मेरी बड़ी बहन Mahira टाँगें फैलाकर अपनी चूत रगड़ रही है और आँखें बंद करके सिसकारियां ले रही है. उस रात को मैं ये देख कर अपने कमरे में आया और सोचा कि बहन को लौड़े की ज़रूरत है, मुझे घर पर हो रहे रोज़ के कलेश को भी खत्म करना था, तो मैंने सोचा कि बहन की चुत की खुजली मिटानी पड़ेगी.


बस ये सोचते हुए मैं उस रात तो लंड हिला कर सो गया. सुबह से मैं अपनी बहन को चोदने की प्लानिंग करने लगा.

Read also: बहन चुदवाकर लंड की दीवानी बन गई
अब मैं Mahira के पास ज्यादा वक़्त बिताने लगा और उससे ज्यादा बात करने लगा. उसको ज्यादा से ज्यादा छूने की कोशिश करने लगा.. उसका सारा काम कर देता. उसको बाइक पे बिठा कर बाज़ार भी ले जाता, जिससे उसके मम्मे मेरी पीठ में बार बार टच होते. अब जब भी वो मुझे देखा करती तो मैं जानबूझ कर उसके सामने अपने लौड़े को मसलता और ज्यादातर बिना शर्ट के रहता. मैं ढीला पजामा भी पहनता कि न जाने कब लंड खुलने की जरूरत आ जाए.

मैं अपना लंड कड़क करके उसके सामने जाता, जिससे मेरे पजामे में तंबू बना रहता और बिना अंडरवियर के मेरे लौड़े का आकार और लम्बाई अच्छे से दिखाई देती. वो भी मेरे खड़े लंड को लालच भरी नजरों से देखने लगी थी.

कुछ दिन ऐसा ही चलता रहा. मैंने देखा कि Mahira अब मेरी ओर खिंच रही थी. अब हमेशा ही उसका ध्यान मेरे पजामे पर रहता और वो मेरे खड़े लौड़े को देखती रहती. वो पजामे में हिलते हुए लौड़े को देख कर मुस्कुरा भी देती, मुझे पता था वो अब लाइन पे आ रही है.
अब मुझे उम्मीद हो चली थी कि Mahira की चूत अब मेरे लंड से ज्यादा दूर नहीं है.

बस अब मुझे एक आखिरी काम ये करना था कि वो खुद सेक्स की बात करे. उसके लिए मैंने अपने मोबाइल में कुछ भाई बहन की पोर्न मूवी डाउनलोड की और एक गेम भी डाउनलोड कर लिया. मैं योजना के साथ उसके साथ बैठ कर गेम खेलने लगा. खेलते समय Mahira मेरे लौड़े को ही देख रही थी. मैं भी अपने लौड़े के पास हाथ लगाता और खुजाता.

Featured Indian Bhai Behan Choda Ghar Porn Videos ! xHamster


अचानक मैंने Mahira से कहा- आपा!
वो बोली- क्या हुआ?
मैंने कहा- आपा, ये गेम बहुत अच्छा है, आप खेल कर देखो.


Mahira ने मेरा मोबाइल ले लिया और मैं वहां से बहाना कर चला गया. उसने गेम देखा और कुछ देर गेम खेल कर वो मेरे मोबाइल में पोर्न देखने लगी. मैंने भी उसे आराम से मोबाइल देखने दिया.

आधा घंटा वो पोर्न देखती रही. तभी मेरे मोबाइल पे मेरे दोस्त का फ़ोन आ गया और उसने बिना पोर्न मूवी बन्द किए हुए ही मुझे आवाज लगा दी. मैं आया तो उसने मुझे मोबाइल दे दिया. मैंने जब मोबाइल पे बात करके फ़ोन काटा तो पोर्न मूवी वापस प्ले हो गई.

जब मैंने अपनी बहन की तरफ देखा तो वो मुझे ही देख रही थी. मेरे देखते ही उसने मुझसे नज़रें चुरा लीं और मुस्कुरा दी.

फिर हम दोनों अपना अपना काम करने लगे. शाम को Mahira ने मुझसे कहा कि में रात को जब कॉल करूँ, मेरे कमरे में आ जाना.
मैं जानता था कि Mahira मुझे रात को क्यों बुला रही है, मगर मैंने अनजान बनते हुए Mahira से कहा- क्यों कोई काम है क्या आपा?
तो उसने बताया कि वो रात को ही बताएगी.
मैंने कहा- ठीक है.

अब मुझे रात का बेसब्री से इंतज़ार था. मैं अपने बिस्तर पर लेटे हुए फेसबुक चला रहा था. रात को एक बजे Mahira का कॉल आया कि मेरे कमरे में आ जाओ.
मैंने कहा- ठीक है.
मैं जल्दी से Mahira के कमरे में गया जहां बेड पर मेरी छोटी बहन सो रही थी और नीचे बेड के पास Mahira ने एक अलग बिस्तर बिछाया हुआ था. मैं गया और Mahira के पास बैठ गया.

मैंने कहा- क्या काम है?
Mahira ने कहा- भाई, तुमसे कुछ बात करनी है.
मैंने कहा- क्या?
Mahira ने कहा- तुम्हारे फ़ोन में वो पोर्न मूवी मुझे अच्छी लगी, मुझे वो तुम मेरे मोबाइल में सेंड कर दो.
मैंने कहा- मेरे फ़ोन में ही देख लो.
उसने मुझे देखा, फिर वो शर्मा गयी.

Mahira ने कहा- तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है.
मैंने कहा- नहीं है…
उसने कहा कि तुमने कभी वो किया है?
मैंने कहा- क्या वो?
तो Mahira बोली- वही, जो पोर्न मूवी में है.
मैंने कहा- नहीं किया.

फिर वो मुझसे खुलने लगी और कुछ देर बातें करने के बाद Mahira ने कहा- तुम मेरे साथ सेक्स करोगे?
मैंने कहा- लेकिन आपा, आप मेरी बहन हो.
उसने कहा- उससे कोई फर्क नहीं पड़ता.
मैंने कहा- मुझे वो सब करना नहीं आता.
उसने कहा- भाई मैं तुझे सब सिखा दूंगी.
मैंने कहा- ओके.. सिखाओ.

यह कहते ही Mahira ने मुझे अपनी बांहों में भर लिया. अब हम भाई बहन आपस में किसिंग करने लगे. मेरे किस करने के अंदाज़ से Mahira समझ गयी कि मैंने पहले भी सेक्स किया है. उसने पूछा कि ऐसा किस तो पक्के खिलाड़ी ही करते हैं.
तब मैंने उसको सब बताया कि मैंने बहुत सी आंटी और लड़कियों और भाभियों को चोदा है.

Mahira ने छोटी बहन की तरफ देखा और बोली- आज इसको मैंने नींद की गोली दे दी थी ताकि कोई समस्या न हो.

ये सुनते ही मैं कमीज़ के ऊपर से ही Mahira के मम्मे दबाने लगा. Mahira गरम होने लगी. मैंने Mahira की कमीज़ को उतार दिया, जिससे उसके मोटे मम्मे बाहर किसी बंद कबूतर की तरह उछल के बाहर आ गए. उस टाइम Mahira ने ब्रा नहीं पहनी थी.

फिर Mahira ने मेरी शर्ट को भी खोल दिया, जिससे हम दोनों ऊपर से नंगे हो गए. अब मैं Mahira को चाटने और चूसने लगा. Mahira भी पागलों की तरह मुझे चूमने और चाटने लगी. हम दोनों बुरी तरह से वासना के दरिया में डूब कर कामुक आहें भरने लगे.


रीब 15 मिनट के रोमांस और चुम्मा चाटी के बाद Mahira ने कहा- अब मुझे जल्दी से लंड दे दो.. मैं बहुत दिनों से तड़प रही हूँ.

मैंने Mahira की सलवार उतारी और उसकी पेंटी के ऊपर से ही चूत पे हाथ लगाया. मैंने देखा कि उसकी चुत गीली हो चुकी थी. मैंने Mahira की पेंटी एक झटके में उतार दी और चूत को मसलने लगा.

Mahira ने कहा- मेरी चूत को बाद में चाट और चूस लेना.. पहले इसको एक बार लंड से फाड़ दे.
मैंने कहा- कंडोम नहीं है.
तो उसने कहा- कोई बात नहीं.. तू बस जल्दी से चुत फाड़ दे.

मैंने अपना मोटा लंड Mahira की चूत पे रखा. पहले दो मिनट तक मैंने अपने लौड़े से बहन की चूत की रगड़ाई की और एक झटका लगा दिया, जिससे मेरा आधा लवड़ा Mahira की चूत में समा गया. Mahira ने एक ठंडी आह भरी और मुझे अपने से लिपटा लिया. उसके बाद मैंने एक झटका और दिया और पूरा लंड चूत में समां गया.
उसके बाद Mahira ने दोनों टांगें मेरी कमर में डाल कर मेरी कमर पकड़ ली और आहें भरने लगी. मैं ज़ोरदार झटके देने लगा. मेरे ज़ोरदार झटकों से Mahira ऊपर नीचे हिलने लगी, जिससे उसके मोटे मम्मे भी झूलने लगे.
अब मैं Mahira के आगोश में था. मेरे होंठ Mahira के होंठ चूस रहे थे और मेरे हाथ Mahira के बड़े मम्मे मसल रहे थे. मेरा लवड़ा Mahira की चूत फाड़ रहा था. दस मिनट की चुदाई के बाद Mahira बहुत गरम हो गयी और नीचे से ही अपनी गांड उछाल उछाल के मेरा लवड़ा लेने लगी. उसके गांड उछाल कर लंड लेने से मुझे ऐसा लग रहा था, मानो Mahira की चूत मेरे लंड के साथ मेरे अंडकोष भी अपनी चूत में भर लेगी. उसकी इस तड़प से ये भी पता चल रहा था कि वो कितनी चुदासी और प्यासी और चुदक्कड़ थी.
फिर कुछ मिनट की चुदाई के बाद मैंने उससे पोजीशन चेंज करने को कहा.

उसने हां कर दी, तो मैं नीचे लेट गया और Mahira मेरे ऊपर आ गयी.

अब Mahira ने मेरा तना हुआ लवड़ा अपने हाथ से अपनी चूत पे लगाया और झटके से बैठ गयी. झटके से बैठने की वजह से मेरा पूरा लंड उसकी चूत में घुस गया और फच की तेज आवाज़ आई. उस वक़्त मेरे लौड़े में कुछ दर्द सा भी हुआ, मगर चूत की गर्मी ने उसे ठीक कर दिया.

अब Mahira मेरे सीने पे दोनों हाथ रख कर मेरे लौड़े पे उछल रही थी और ‘आह उम्म्ह… अहह… हय… याह… ओह ओह यस..’ कर रही थी. दस मिनट की चुदाई के बाद हम दोनों झड़ गए और Mahira मेरे ऊपर निढाल होकर गिर गई. हम दोनों ऐसे ही काफी देर तक पड़े रहे.

फिर Mahira ने मुझे चूमते हुए कहा- भाई, आज तो मज़ा आ गया.
उस रात मैंने अपनी बहन Mahira को 4 बार और चोदा. उसके बाद घर में सब ठीक हो गया. Mahira को लवड़ा मिल गया था और मुझे फ्री की चूत मिल गई थी. अब Mahira ने घर में झगड़ा करना छोड़ दिया था.
अगले 3 महीने तक मैंने Mahira को और चोदा. फिर Mahira के पति उसे लेने आए और वो चली गयी. मगर जब भी वो घर आती है, मैं उसे ज़रूर चोदता हूँ.

मेरी सेक्स कहानी पर अपने विचार मुझे जरूर बताएं!
Previous Post
Next Post

0 Comments: